हो जाये अजनबी


आ इक बार फिर हम,
हो जाये अजनबी ,
एक-दूजे को फिर ,
न याद आये कभी ,
तू मुझको भूल जाये ,
मै भूलू तुझे ,
हर पल जो कभी खास था ,
बस एहसास रह जाये ,
फिर देखते है दोस्त ,
ये भूलना हमारा क्या ,
रंग लाता है भला
कौन सा पल हमे ,
याद आता है जादा ,
फिर तुम मुझे बताना,
और मै तुझे

टिप्पणियाँ

एक टिप्पणी भेजें

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्यार बार बार होता है

हिमानिका -पहला भाग

क्यों बलात्कार कि शिकार भुगते सजा