खुशी मनाओं हम लड़कियां हैं



महिला दिवस आने वाला है तो कुछ महिलागिरी हो जाए। औरतों पर अत्याचार और अपराधों की तो चर्चा होती ही रहती है पर जरा अब लड़की होने के फायदे भी गिन लिए जाए। बेटे के पैदा होने पर भले ही लोग खुश होते हों पर यही सोंच लड़कियों का फायदा कराने लगती है। भाई को राखी बांधने पर गिफ्ट की हकदार होती है लड़की। हमेशा भाई ही बहन के लिए गिफ्ट खरीदता है बहनों को तो यह काम यदा-कदा ही करना पड़ता है। नवरात्र में बहनों को तो बढिय़ा-बढिय़ा पकवान खाने को मिलते है और बेचारे छोटे से मुन्नू मियां समझ ही नहीं पाते कि कोई उन्हें क्यों नहीं बुलाता।

स्कूल में टीचर्स का पारा अधिकतर लड़कों पर ही हाई रहता है लड़कियां बेचारी तो हमेशा पढऩे में मन ही लगाती हैं। नालायक, पाजी, बदमाश जैसे सारे एवार्ड अधिकतर लड़कों के ही खाते में आते हैं। हम लड़कियों की आवाज में जादू होता है। एक बार सुरीली आवाज में किसी से कोई काम कहा और सामने वाला हर तरह से आपका काम करने को तैयार। कहीं आंसू निकल आए तो काम बनने में बिल्कुल देर नहीं लगेगी।और हां हमारे इस फायदे की शिकायत लड़कों को अक्सर रहती है। कई बार कहते सुना है, फलां को लड़की होने का फायदा मिला है। तो भई क्यूं जल रहे हो। लड़कियां मेहनत भी खूब करती हैं।तो गल्र्स क्यों न इन सब फायदों में मस्त होकर हम खुशियों भरा महिला दिवस मनाएं।

चेतावनी-

लड़कियों फायदे उठाएं पर जरा संभलकर क्योंकि

बड़े धोखे है इस राह में............

लड़कों के लिए- यह सब पढ़कर किसी धोखे में मत आइएगा दोस्त। लड़कियों से पार पाना सबके बस में नहीं।तो बेस्ट ऑफ लक

टिप्पणियाँ

एक टिप्पणी भेजें

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीरियड के दौरान एक दिन की पेड लीव..........वॉओ या नो-नो!!!!!

जय हो माता निर्मला देवी !

हिमानिका -पहला भाग